Phulwanti

Posted by Rahul on October 10, 2010 | Comment

सूचना – यह कहानी सत्य घटनायों पर आधारित है। किरदारों की गोपनीयता बरक़रार रखने के लिए उनके नाम बदल दिए गयें हैं।

हमारी एक मित्र हैं। समझ लीजिये उनका नाम फुलवंती है। आज जब हम उनसे “चैट” कर रहे थे तो वो हमें बता रही थी की वो आजकल सुबह जल्दी उठ जाती हैं। यह सुनकर हमें तनिक आश्चर्य हुआ। फुलवंती को तो रात को देर तक जागने की आदत थी, फिर यह परिवर्तन कैसे? हमनें इसका कारण जानना चाहा तो उन्होंने हमें बताया की इसका कारण उनका अपने नव विवाहित जीवन में कदम रखना है। उन्ही के शब्दों में:

आजकल में ०६:३० बजे उठकर अपने पति को नाश्ता देती हूँ,
फिर बर्तन धोती हूँ और झाड़ू लगाती हूँ ।

उनके इस रूप से हम वाकिफ न थे, इसीलिए हमनें इस सत्य को जग जाहिर करना अपना कर्त्तव्य समझा।

Posted in Random Ramblings |

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.